ज़िन्दगी इम्तेहान-Hooplalive
loading...



ज़िन्दगी इम्तेहान

king of music
0

View 112

ज़िन्दगी में हर चीज़ के दो पहलू होते हैं | धुप हैं तो छाँव भी हैं | अँधेरा है तो उजाले भी हैं | मुश्किलें हैं तो मंज़िलें भी हैं | और ज़िन्दगी का सबसे बड़ा सच ये हैं की ज़िन्दगी हमेशा एक जैसी नहीं रहती | हर घडी, हर लम्हा ज़िन्दगी बदलती रहती है |वो ज़िन्दगी जो कभी हमें सर आँखों पे बिठा लेती हैं वही ज़िन्दगी कभी सिर्फ एक ठोकर से धुल भी चटा देती हैं | ज़िन्दगी में अगर कभी सब हमारे हिसाब से होता हैं तो कभी सब हमारी चाहत, हमारी मर्ज़ी के खिलाफ होता है | इस बात से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता की आपका हुनर क्या है , आप कितने होशियार है , इस बात से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता की की आप कितने होनहार हैं और इस बात से भी कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता की आप कितने तैयार है क्योंकि ज़िन्दगी तारीख बता के इम्तेहान नहीं लेती और इंसान गोरा हो या काला , अमीर हो या गरीब, अच्छा हो या बुरा इम्तेहान सबको देना पड़ता है | हर इंसान की ज़िन्दगी में वो वक़्त आता हैं जब कुछ सही नहीं होता, हम जो चाहे वो नहीं होता, जब हमारी हर चाल उलटी पड़ने लगती है , जब ज़िन्दगी पहेली की तरह उलझने लगती है |
Category :
Tags :